अपराधछत्तीसगढ़राजनीती
Trending

बस खिलाड़ी बदल गया बाकी खेल पुराना है ! भ्रष्टाचार का हॉटस्पॉट बन रहे कोरबा में सुशासन की सरकार में भी जारी है काले कारनामों का व्यापार

https://www.facebook.com/share/Xojit7vcWzNoKuyP/?mibextid=oFDknk

कोरबा। भ्रष्टाचारों के लंबे आरोप के बीच भले ही कांग्रेस की कथित घोटालेबाज सरकार जा चुकी है। पर जाते-जाते कई सुलगते सवाल पीछे छूट गए हैं। मसलन, राखड़ की जहरीली धूल में घुट रही ऊर्जा नगरी कोरबा की जनता को राहत की सांस मिल सकेगी? सामंतवादी सोच के बूते वर्षों से चलाए जा रहे ठेकेदारों का एकाधिकार खत्म और रेत, कोयला-डीजल के काले कारोबार में लिप्त माफियाराज का खत्मा होगा? इन चुनौतियों से निपटकर कोरबा समेत संपूर्ण छत्तीसगढ़ में सुशासन लाने का संकल्प पूरा करने प्रदेश की विष्णुदेव सरकार आखिर क्या कदम उठाएगी? ग्राम यात्रा न्यूज नेटवर्क की सजग टीम पिछली सरकार में इन्हीं सवालों को बड़ी बेबाकी से उठाती रही और भ्रष्टाचारी नौकरशाहों को बेनकाब किया जिसके बाद एजेंसियां एक्टिव हुई और आरोपों की जांच कर मामले में शामिल लोगों को सलाखों के पीछे पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। पर यह मिशन अभी पूरा नहीं हुआ है और एक बार फिर से ग्राम यात्रा छत्तीसगढ़ न्यूज नेटवर्क अपने दायित्वों का निर्वहन करने के लिए तत्पर है। जल्द ही जनहित के ज्वलंत मुद्दों को उठाते हुए कोरबा में पसर रहे भ्रष्टाचार को आप के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। अब कौन-कौन इस जद में आ रहा है, इन सब बातों का खुलासा सबूतों के साथ जल्द ही किया जाएगा।

जल्द बेनकाब होंगे वे लोग, बने रहिए ग्राम यात्रा न्यूज नेटवर्क के साथ

एक बार फिर ग्राम यात्रा छत्तीसगढ़ न्यूज नेटवर्क जन-सरोकार को लेकर अपने मिशन मोड पर है। हमारी टीम ने निष्पक्ष पत्रकारिता की भूमिका में खड़े होकर पूर्व में भी कोरबा जिले की मूलभूत सुविधाओं को लेकर सवाल दागे। एक औद्योगिक नगरी होने के कारण जिस तरह से कोरबा जिले की खनिज संपदा की लूट मचाई थी, पूर्व में सत्तासीन पार्टी के लोगों को कटघरे में भी लाया गया। जिसके परिणामस्वरूप बहुत से उच्च पदस्थ अधिकारी अब भी सलाखों के पीछे हैं। कोरबा जिला खनिज संपदा से भरा पड़ा है, जिससे होने वाला राजस्व भी बहुत बड़ा होता है। जिला खनिज न्यास की बड़ी राशि जिले को प्राप्त होती है। इस राशि का भी बहुत लंबे समय से अधिकारी व राजनेताओं के द्वारा दोहन किया जाता रहा है। केवल खनिज न्यास मद से ही 2000 करोड़ रुपए से भी ज्यादा का भ्रष्टाचार पूर्व की सरकार में करने के प्रमाण एजेंसियों को मिले है।

पूर्व कलेक्टर जेल में और कांग्रेस की भ्रष्टाचारी सरकार छग से बेदखल
ग्राम यात्रा न्यूज नेटवर्क द्वारा खनिज न्यास में व्यापक भ्रष्टाचार के मुद्दे पर प्रमुखता से सिरीज चलाया गया और नतीजा यह रहा कि पूर्व कोरबा कलेक्टर रानू साहू इन सब भ्रष्टाचार में लिप्त होने के आरोप में पिछले वर्ष से जेल में हैं। हमारी कोशिशों का परिणाम ही रहा, जो जनजागृति फैली और जनता ने इन सब भ्रष्टाचार से मुक्ति के लिए कांग्रेस की सरकार को छत्तीसगढ़ से बाहर का रास्ता दिखाया। ग्राम यात्रा छत्तीसगढ़ न्यूज नेटवर्क हमेशा ऐसा मामलों को लेकर जनहित के मुद्दे उठाते रहा है और भ्रष्टाचार करने वाले लोगों को बेनकाब करते आया है। एक बार फिर से ग्राम यात्रा छत्तीसगढ़ न्यूज नेटवर्क अपने दायित्वों का निर्वहन करने के लिए तत्पर है। जल्द ही जनहित के ज्वलंत मुद्दों को उठाते हुए कोरबा में पसर रहे भ्रष्टाचार को आप के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। अब कौन कौन इस जद में आ रहा है सब सबूतों के साथ जल्द खुलासा किया जाएगा। पढ़ते रहें ग्राम यात्रा छत्तीसगढ़ न्यूज नेटवर्क।

आइए अब मिलकर ढूंढ़ लाएं इन सवालों के जवाब !

0 क्या शहर को राखड से मुक्ति मिलेगा या सिर्फ ठेकेदार का चेहरा बदलेगा?
0 क्या कोरबा कोयला कबाड़ डीजल चोरी से मुक्त हो पायेगा?
0 क्या कोरबा रेत माफियाओं से मुक्त हो पायेगा?
0 कोरबा में ठेकेदारों का एकाधिकार खत्म हो पाया?
0 अब कौन कौन इस जद में फंस सत्ता को करने को है बेताब?
0 अब इस सरकार को किसकी नजर लग रही है कौन सा ऐसा काम है जो सुशासन के सरकार में बन सकता है काला धब्बा ?
0 कौन से लोग कांग्रेसी सत्ता के समय के ठेकेदारो को दे रहे संरक्षण जिन के सर पर रहा कभी कांग्रेस सरकार का सीधा हाथ !
0 सुशासन की भाजपा सरकार में कौन-कौन दाग लगाने पर है तुले?
0 क्या ठेकेदारों के फर्म का नाम बदलकर नया फर्म पर ठेका लेकर किया जाएगा उन्हें फिर से उपकृत ?

जल्द सभी ऐसे ज्वलंत मुद्दों का जवाब आयेगा सामने

आपके पास इस खबर से जुड़ी कोई जानकारी या सुझाव है तो हमें भेजे हम बिना आपके नाम को सामने लाये वो जानकारी अपने पाठकों तक पहुचायेंगे!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button