कोरबाखास खबर

KORBA: ‘मोहब्बत’ का कत्लः प्यार में आशिक बना हैवान, गर्लफ्रेंड को मारी गोली, जंगल में ठिकाने लगाई लाश

रायपुर. बैंक कर्मी युवती हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. पुलिस ने हत्या के आरोपी को चलती ट्रेन से दबोच लिया है. बीते दिनों तनु कुर्रे का अधजला शव ओड़िशा के बलांगीर जिले के तुरईकेला जंगल में मिला था. जिसके बाद पुलिस ने सरगर्मी से तलाश कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. बता दें कि, 21 नवबंर से तनु जब घर वालों का फोन नहीं उठाया तो परेशान होकर उसके परिजन कोरबा से रायपुर पहुंचे थे. परिजनों को तनु कुर्रे अपने शंकर नगर में पीजी में नहीं मिली तो परिजनों ने आसपास पतासाजी की, तो पता चला कि तनु घर ही नहीं पहुंची है. इससे परिजन परेशान होकर मोवा थाने पहुंचे और अपनी बेटी के गायब होने की सूचना दी, जिसे पुलिस ने 22 नवबंर को गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज कर तलाश शुरू की. इसी बीच 24 नवंबर की रात ओडिशा के बलांगीर जिले के तुरईकेला इलाके के जंगल में एक अज्ञात युवती की अधजली लाश मिली थी. जिसकी तलाश में ओडिशा पुलिस ने छत्तीसगढ़ समेत पड़ोसी राज्‍यों से गुमशुदा इंसानों की जानकारी मांगी तो युवती की पहचान 30 नवबंर 2022 को उसके परिजनों ने तनु कुर्रे के रूप की थी.

दरअसल, सुमित अग्रवाल बलांगीर से कारोबार के सिलसिले में रायपुर आता था. तनु कुर्रे की जान पहचान 3 साल पहले आरोपी सुमित अग्रवाल से हुई थी. निजी बैंक में कार्यरत युवती काम के दौरान युवक के संपर्क में आई थी. जिसके बाद युवक और युवती के बीच प्रेम संबंध बन गया. युवती ने आरोपी युवक से लगातार मुलाकात करते रही, साथ ही कई बार उसके साथ बाहर भी घूमने गई थी. पिछले 6-7 माह से इनके बीच शादी को लेकर विवाद चल रहा था. आरोपी युवक तनु कुर्रे से शादी करना चाह रहा था. लेकिन युवती आरोपी के हरकतों से और उसके गुस्से से परेशान थी. इसीलिए वह आरोपी से शादी नहीं करना चाहती थी.

सूत्रों के मुताबिक आरोपी नवंबर में युवती को बहला फुसलाकर अपने साथ ओड़िशा ले जा चुका था. आरोपी के साथ युवती कुछ दिनों तक ओड़िशा में ही रही. फिर उसने घर वापस जाने की बात की.

KORBA

बताया जा रहा है कि सुमित अग्रवाल मानसिक रूप से आपराधिक प्रवर्ति का युवक था. वह आदतन नशेड़ी था, इंजेक्शन का नशा करता था, आरोपी ने 3 राउंड फायर कर हत्या की वारदात को अंजाम दिया. जिसके बाद पहचान छुपाने आरोपी ने युवती के शव पर पेट्रोल डालकर जला दिया. फिलहाल रायपुर पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक माहेश्वरी ने बताया कि, आरोपी सुमित अग्रवाल कोलकत्ता भागने की फिराक में था. पुलिस टीम ने आरोपी को चलती ट्रेन से गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस अब पूरे मामले की जांच कर आरोपी को ओड़िशा पुलिस को सुपुर्द कर देगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close