कोरबाखास खबर

चार वर्ष के बालक की हत्या करने वाला अपचारी बालक भगा बाल गृह से, बस्तीवासियों ने फिर किया पुलिस के हवाले, लापरवाही को लेकर आक्रोशित लोगो ने किया चक्काजाम

कोरबा पुराने मामूली सी बात को लेकर विवाद और पत्थर मारने का बदला लेते हुए एक 11 वर्षीय बालक ने 4 साल के बच्चे को ईट मारकर मार डाला था। विगत महीने कूआँ भट्ठा में हुए इस घटनाक्रम में मानिकपुर चौकी पुलिस ने खोजी डॉग बाघा की मदद से कुछ ही घंटे के भीतर अपचारी बालक को पकड़ लिया। उसे बाल न्यायालय में प्रस्तुत कर निर्देश उपरांत ग्राम रिसदी स्थित बाल संप्रेक्षण गृह में निरुद्ध किया गया था।

उक्त विधि से संघर्षरत अपचारी बालक अपने एक अन्य साथी के साथ बाल सम्प्रेक्षण गृह से भाग निकला। हत्यारा बालक भाग कर अपने घर आया और आसपास छिप गया था। स्थानीय लोगों ने इस बालक को पकड़कर फिर पुलिस के हवाले कर दिया। बस्ती वासियों में इस बात को लेकर आक्रोश है कि उस वक्त भी जब बालक ने हत्या किया था, तब उसे पकड़कर बस्ती के लोगों ने रखा और अब एक बार फिर जब वह फरार हो गया तब भी बस्ती वालों ने ही पकड़ कर पुलिस के हवाले किया है तो आखिर सुरक्षा व्यवस्था कहां है? कुआंभट्टा बस्ती के लोगों ने मानिकपुर पुलिस चौकी के सामने रास्ते पर बैठकर सड़क जाम कर दिया। गौरतलब है कि ग्राम रिसदी में स्थित बाल संप्रेक्षण गृह किराए के भवन में संचालित हो रहा है। यहां अपराध करने वाले नाबालिक लोगों को रखा जाता है। यहां की सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी को धता बताकर हत्यारा बालक अपने एक अन्य साथी के साथ फरार हो गया जिससे सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान उठ गए हैं। बहरहाल नाराज कुआभट्ठा वासियों को समझाने की कवायद जारी है। उक्त अपचारी बालक की हरकतों की वजह से मोहल्ले वासियों में आक्रोश के साथ-साथ भय का भी वातावरण है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close