खास खबरदेश

मुंडका अग्निकांड में मृतकों की संख्या हुई 29, CM केजरीवाल ने दिए मजिस्ट्रेट जांच के आदेश, मुआवजे का भी ऐलान-

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी के पश्चिमी इलाके में मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास स्थित चार मंजिला व्यावसायिक इमारत में शुक्रवार शाम आग लगने से कम से कम 29 लोगों की मौत हो गई और 12 अन्य झुलस गए. पुलिस सूत्रों ने बताया कि अभी भी कई लाशों की शिनाख्त नहीं हो सकी है. दूसरी तरफ NDRF अभी भी वहां सर्च ऑपरेशन चला रही है. पुलिस के मुताबिक 28 लोगों के लापता होने की शिकायत मिली है.

c m baghel
c m baghel
  1. टीम घटनास्थल पर जांच के लिए पहुंची है.
  2. उधर, दिल्ली पुलिस ने Mundka Firing मामले में IPC की धारा 304/308/120/34 के तहत केस दर्ज किया है.  कंपनी के गिरफ्तार मालिक वरुण और हरीश गोयल के पिता अमरनाथ गोयल की भी आग में झुलस कर मौत हो गई है. जिस वक्त आग लगी उस वक्त मोटिवेशनल स्पीच चल रही थी. अमरनाथ वहां मौजूद थे. आग में फंसे और निकल नहीं पाए. इससे वह काफी ज्यादा झुलस गए और अस्पताल में उनकी मौत हो गई.
  3. इस तीन मंजिला इमारत में पहली मंजिल पर मैन्युफैक्चरिंग युनिट थी, जबकि दूसरी मंजिल पर वेयर हाउस और तीसरी पर लैब थी. सबसे ज्यादा मौत अब तक दूसरी मंजिल पर बताई गई है. हादसे के वक्त दूसरी मंज़िल पर मोटिवेशनल स्पीच चल रही थी. इस कार्यक्रम के चलते वहां ज्यादा लोग मौजूद थे.
  4. बिल्डिंग की छत पर मकान मालिक ने अपना एक छोटा सा फ्लैट बनाकर रखा था. फायर विभाग और NDRF ने सुबह  दोबारा से अपना सर्च ऑपरेशन शुरू किया है. बिल्डिंग में अभी भी तीन-चार लोगों के अभी फंसे होने की आशंका है.
  5. पुलिस  के मुताबिक कंपनी के मालिकों-हरीश गोयल और वरुण गोयल को गिरफ्तार कर लिया गया है. हालांकि मकान मालिक फरार है. उसकी पहचान मनीष लाकरा के रूप में हुई है. पुलिस के मुताबिक वह इमारत के सबसे ऊपर वाले तल पर रहता था. उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.
  6. दिल्ली दमकल सेवा के प्रमुख अतुल गर्ग ने कहा कि इस अभियान में कोई दमकलकर्मी घायल नहीं हुआ. उन्होंने बताया कि अहले सुबह तक छह दमकल वाहन घटनास्थल पर तैनात थे. पुलिस के अनुसार, आग लगने की सूचना शुक्रवार की शाम 4.45 बजे मिली, जिसके बाद 30 से अधिक दमकल गाड़ियों को मौके पर भेजा गया. यह आग मुंडका मेट्रो स्टेशन के पिलर नंबर 544 के निकट एक व्यावसायिक बिल्डिंग में लगी थी.
  7. शुरुआती पूछताछ में पुलिस को पता चला कि चार मंजिला इमारत में कंपनियों को ऑफिस स्पेस मुहैया कराया जाता था. उन्होंने बताया कि पहली मंजिल में एक कंपनी का कार्यालय था और उसके 50 से अधिक कर्मचारियों को सुरक्षित निकाल लिया गया.बचाए गए लोगों को तत्काल चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने के लिए कुछ एम्बुलेंस भी मौके पर मौजूद थीं. दमकल विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रात करीब 11 बजे आग पर काबू पा लिया गया लेकिन प्रशीतन अभियान जारी है.
  8. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आग लगने से हुई लोगों की मौत पर शोक जताया है. कोविंद ने कहा कि वह इमारत में आग लगने से कई लोगों की मौत से अत्यंत दुखी हैं. उन्होंने पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की है.राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘ मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.”कोविंद ने ट्वीट किया, ‘‘दिल्ली में मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास एक इमारत में आग लगने की घटना से अत्यंत दुखी हूं. पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं. मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.”
  9. पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘दिल्ली में भीषण आग की घटना में लोगों की मौत से बेहद दुखी हूं. शोकाकुल परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं. मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.”उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से इस हादसे में जाने गंवाने वालों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपये तथा घायलों को पचास-पचास हजार रुपये की राशि दी जाएगी.
  10. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हादसे पर शोक व्यक्त किया और कहा कि वह लगातार अधिकारियों के संपर्क में हैं. केन्द्रीय आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने भी घटना पर दुख व्यक्त किया है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दिल्ली में आग लगने की घटना में कई लोगों की मौत पर शुक्रवार को दुख जताया और झुलसे हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की. उन्होंने ट्वीट किया, ‘दिल्ली में मुंडका के निकट हुई अग्नि दुर्घटना में कई लोगों की मौत से दुखी हूं. पीड़ित परिवारों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करता हूं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं.’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close